Otp full form in hindi

OTP Full Form | OTP Full Form In Hindi

अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

दोस्तों आज हम बात करेंगे OTP Full form के बारे में आज का टॉपिक बहुत ही खास होने वाला है क्योंकि आज के इस आर्टिकल में मैं आपके साथ एक ऐसा टॉपिक शेयर करने वाला हूँ , जिसका प्रयोग कहीं न कहीं सभी लोग करते हैं लेकिन ऐसे बहुत से लोग हैं जो इसका प्रयोग तो करते हैं लेकिन इसका न तो उन्हें मीनिंग पता है और न ही इसके बारे में ये रोचक तथ्य पता है जो मैं आज आपके साथ शेयर करने वाला हूँ | आपने कहीं न कहीं OTP के बारे में जरूर सुना होगा और आप भी इसका प्रयोग करते होंगे लेकिन क्या आपके मन में कभी ये ख्याल आया है की OTP Full Form क्या है और ये कैसे हमारे लेन देन को सुरक्षित बनाता है अगर आप भी नहीं जानते OTP Full Form क्या होता है तो बने रहिये इस आर्टिकल के साथ और जानिये अपनी मन की बात | Otp full Form क्या है और इसका Otp full Form In Hindi क्या है ये जानने के लिए पूरा आर्टिकल जरूर पढ़ें | आज के इस आर्टिकल मैं आपको बताऊंगा की Otp full form क्या है और साथ ही ये भी बताऊंगा की Otp Full Form का प्रयोग कहाँ – कहाँ होता है |

Contents Hide
  1. 1 OTP Full Form In English
  2. 2 Otp Full Form In Hindi
    1. 2.1 OTP क्या है ?
    2. 2.2 OTP कहाँ use होता है ?
      1. 2.2.1 Top 10 Shoping Website List
      2. 2.2.2 Top 10 Trading Website List
      3. 2.2.3 Top 10 Internet Banking List
      4. 2.2.4 Top 10 Social Networking Website
    3. 2.3 कैसे करें OTP प्राप्त ?
    4. 2.4 OTP काम कैसे करता है ?
    5. 2.5 OTP के कितने प्रकार हैं ?
    6. 2.6 OTP सुरक्षित है या नहीं ?
  3. 3 OTP के फायदे
  4. 4 OTP के नुकसान
  5. 5 OTP से जुड़े QnA
    1. 5.1 What is OTP Full Form ?
    2. 5.2 OTP क्या हिंदी में क्या मतलब होता है ?
    3. 5.3 OTP कहाँ Use होता है ?
    4. 5.4 कैसा होता है OTP का फॉर्मेट ?
    5. 5.5 OTP कितने नम्बर का होता है ?
    6. 5.6 क्या OTP हर बार एक ही आता है ?
    7. 5.7 क्या बिना पंजीकृत मोबाइल नम्बर OTP प्राप्त किया सकता है ?
    8. 5.8 क्या OTP को दो बार प्रयोग किया जा सकता है ?
    9. 5.9 क्या OTP नम्बर सभी के लिए एक ही होता है ?
    10. 5.10 OTP प्राप्त करने के कितने तरीके हैं ?
    11. 5.11 क्या किसी के साथ OTP शेयर करना सुरक्षित है ?
    12. 5.12 OTP प्राप्त करने का कौन सा तरीका सुरक्षित है ?
    13. 5.13 OTP कितने समय तक Valid रहता है ?
    14. 5.14 अगर OTP Invalid हो जाये तो क्या करें ?
    15. 5.15 क्यों आता है OTP हर बार ?
    16. 5.16 OTP भेजने का क्या मकसद है ?
    17. 5.17 OTP न आये तो क्या करें ?
    18. 5.18 OTP का Alternative Method क्या है ?
    19. 5.19 क्या OTP से नुकसान भी होता है ?
    20. 5.20 OTP कैसे हमारे लिए फायदे मन्द है ?
    21. 5.21 Invalid OTP डालने से कोई नुकसान है या नहीं ?

OTP Full Form In English 

सबसे पहले मैं आपको Otp full Form को इंग्लिश में बताऊंगा फिर हम बात करेंगे की Otp full Form In Hindi क्या है ? OTP का Full Form ” One Time Password ” होता है 

O-One

T-Time

p-Password

Otp Full Form In Hindi

दोस्तों जैसा की आपने ऊपर देखा की OTP का फुल फॉर्म ” One Time Password ” होता है अगर आपको इसे हिंदी में जानना है तो आप इसे हिंदी में यूँ भी कह सकते हैं की ” एक बार प्रयोग किया जाने वाला पासवर्ड “ | ओटीपी एक वन-टाइम पासवर्ड है जो कुछ समय के लिए वैध होता है। यह एक प्रकार का सुरक्षा पासवर्ड है जो केवल एक बार उपयोग के लिए या एक कंप्यूटर, एक मोबाइल डिवाइस आदि के लिए मान्य है, जिसका उपयोग लेनदेन के लिए किया जाता है। OTP की जो सुविधा होती है उससे आपके अकाउंट की सुरक्षा और भी बढ़ जाती है | मान लो जब भी आप किसी Shoping Application से शॉपिंग करते हैं या किसी भी प्रकार का नेट बैंकिंग के जरिये लेन देन करते हैं तो बैंक आपको उस नंबर पर OTP भेजेगा जो नंबर आपके अकाउंट से लिंक है और उस OTP को डालने के बाद ही आपकी Transaction पूरी होती है अगर ऐसा नहीं होता तो कोई भी बगैर OTP के आपके अकाउंट से शॉपिंग कर लेता इसलिए OTP आपके अकाउंट की सुरक्षा को कही न कहीं और सुरक्षित कर देता है | 

OTP क्या है ?

OTP  एक ऐसा पासवर्ड है जिसका आप किसी भी ऑनलाइन लेन देन के दौरान केवल एक ही बार प्रयोग कर सकते हैं OTP आपके डेबिट कार्ड, ऑनलाइन रिचार्ज, क्रेडिट कार्ड, ऑनलाइन शॉपिंग, बिल भुगतान इत्यादि का उपयोग करके सुरक्षा को  और अधिक सुरक्षात्मक बनाता है। यह आपके बैंक के द्वारा आपके खाते में पंजीकृत मोबाइल नंबर पर लेनदेन के दौरान अंतिम चरण से पहले भेजा जाता है।

कोड का उपयोग केवल एक बार और एक निश्चित समय सीमा के भीतर किया जाना चाहिए जो लगभग 5 मिनट या 10 मिनट हो सकता है। यदि आप दिए गए समय सीमा के भीतर इस कोड का उपयोग नहीं करते हैं, तो यह समाप्त हो जाएगा, और आपको फिर से “Resend OTP” विकल्प पर क्लिक करना होगा। इसके अलावा, ओटीपी को आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर फिर से भेजा जाएगा, अब आप इसे पुन: उपयोग कर सकते हैं बाद में यह अमान्य हो जाता है, इसलिए इसे फिर से उपयोग नहीं किया जा सकता है।

यह स्थिर पासवर्ड जैसे लॉगिन या लेनदेन पासवर्ड से अधिक सुरक्षा प्रदान करता है, जो कई लॉगिन सत्रों और लेनदेन के लिए समान रहता है। यहां तक ​​कि अगर किसी के पास आपका बैंक खाता विवरण, लॉगिन आईडी और पासवर्ड है, तो वह आपके खाते का उपयोग नहीं कर पाएगा क्योंकि ओटीपी आपके मोबाइल पर आ जाएगा और इसके बिना, धोखाधड़ी लेनदेन को पूरा नहीं कर सकती है।

OTP कहाँ use होता है ?

दोस्तों अगर मैं आपको ये बताने लगा की इसका प्रयोग कहाँ-कहाँ  होता हो तो ये आर्टिकल बहुत ही बड़ा हो जायेगा इसलिए में इस टॉपिक को थोड़ा शॉर्ट करके बताऊंगा बिलकुल सरल और आसान भाषा में | आप बस इतना समझ लो की जितनी भी ऑनलाइन Transaction होती हैं किसी भी वेबसाइट से उसमे OTP की आवश्यक्ता होती है | जैसे –

Top 10 Shoping Website List 

Top 10 Trading Website List 

Top 10 Internet Banking List 

Top 10 Social Networking Website

कैसे करें OTP प्राप्त ?

अगर आप भी अपने बैंक अकाउंट की सुरक्षा के लिए OTP का प्रयोग करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको अपना मोबाइल नंबर आपके बैंक अकाउंट से लिंक करवाना होगा तभी आप इस सेवा का लाभ उठा सकते हैं क्योंकि जब भी आप कोई शॉपिंग करते हैं या फिर कोई भी ऑनलाइन Transaction करते हैं तो Transaction को पूरा करने बैंक  द्वारा आपके पंजीकृत मोबाइल नंबर पर ही OTP भेजा जायेगा तो सबसे पहले आपको अपना मोबाइल नम्बर बैंक अकाउंट से लिंक करवाना होगा | मोबाइल नंबर लिंक करवाने के बाद जब भी आप कोई ऑनलाइन भुगतान करेंगे या किसी भी प्रकार की कोई Transaction करते हैं तो आपके पंजीकृत मोबाइल नम्बर पर बैंक द्वारा एक OTP भेजा जायेगा जिसे आप ” One Time Password ” के रूप में प्रयोग करेंगे | 

OTP काम कैसे करता है ?

OTP का पूरा सिस्टम Information Flow { सूचना का प्रवाह } पर काम करता है | इसे हम बिलकुल आसान भाषा में समझेंगे की OTP काम कैसे करता है | जब आप अपना बैंक अकाउंट ओपन करवाते हैं तो आपके नाम से आपकी निजी Details को बैंक द्वारा बैंक के Database Server में सेव कर दिया जाता है और आपको उसे Access करने के लिए username और Password दे दिया जाता है | OTP को “Two Factor Authentication” या “Two Step Verification” भी कहा जाता है | Internet Banking के लिए Bank के Database Server में ये Automatic ऑन होता है और जब भी आप Internet Banking के पोर्टल पर जाकर username और Password enter करते हैं तो आपके Internet Server से एक Request बैंक के Database Server को जाती है , वहां आपकी Details Match होती हैं | Details Match होने के बाद Two Step Verification ओन होता है और वहां से OTP Auto Generate होकर आपके पंजीकृत मोबाइल नम्बर पर भेज दिया जाता है अब आप इसे enter करते हैं और अपने अकाउंट का Data Access करते हैं | अब जब भी आप किसी भी प्रकार का भुगतान करेंगे तो वहां से OTP Auto Generate होकर आपके पास आएगा और आप उसका तुरंत भुगतान कर पायेंगे | ध्यान रहे दोस्तों ये सारा प्रोसेस Back End में काम करता है आपको इसमें कुछ समझ नहीं आएगा इसके लिए आपको Coding सीखनी पड़ेगी | 

ये भी पढ़ें – क्या आप PDF का फुल फॉर्म जानते है ?

OTP के कितने प्रकार हैं ?

ऐसे बहुत से लोग होंगे जो OTP के अन्य प्रकारों के बारे में जानते होंगे उन्हें केवल एक ही OTP के बारे में पता होगा जो मोबाइल OTP होता होता है | अब मैं  इस आर्टिकल में आपको OTP के प्रकारों के बारे में बताऊंगा की OTP के कितने प्रकार होते हैं | आमतौर पर OTP के तीन प्रकार हैं जो कुछ ही लोग जानते हैं अगर आप भी जानना चाहते हैं तो बने रहिये इस आर्टिकल के साथ –

OTP Full Form
OTP Full Form
  1. SMS Messages OTP
  2. Voice Calling OTP
  3. Email OTP

SMS Messages OTP

सबसे पहले मोस्ट पॉपुलर SMS OTP के बारे में बात करते हैं | दोस्तों ये सबसे आसान तरीका OTP प्राप्त करने का और हर कोई इसे बिलकुल आसानी से यूज़ कर सकता है | ज्यादातर websites और Applications इसके माध्यम से OTP भेजती हैं और इसका response भी अच्छा रहता है | 

Voice Call 

दूसरे ननम्बर पर आता है Voice Calling इसमें आपके पास कॉल आएगा और कॉल के माध्यम से आपको OTP बताया जायेगा | ज्यादातर ये Social Websites , WhatsaApp Facebook And Trucaller में देखने को मिलता है | इसमें आपको ऑप्शन मिलता है अगर आप अन्य माध्यम से OTP प्राप्त करना चाहते हैं तो उस पर क्लिक कर दें और आपके उसी माध्यम से OTP भेजा जायेगा जो माध्यम आपने चुना था | 

Email OTP

इसका इस्तेमाल बहुत कम लोग करते हैं क्योंकि इसका इस्तेमाल वो लोग करतें हैं जो एक से अधिक Websites पर अपना Account बनाते है उन्हें इसकी जरूरत पड़ती है | 

OTP सुरक्षित है या नहीं ?

अब आपके मन में ये ख्याल होगा की क्या otp सुरक्षित है ? दोस्तों आपको बता दें की otp पूरी तरह से सुरक्षित है जब तक आप ये कोड किसी और को न बतायें | OTP की एक खाशियत ये भी है की ये 10 मिनट तक ही वैध रहता है और इससे जो कोड जनरेट होता है उसे एक ही बार प्रयोग किया जा सकता है | मान लो अगर आपके फ़ोन से कोई चोरी से transcation करता है और OTP आपके पास आता है , तो अगर उसे 10 मिनट तक आपका फ़ोन न मिले तो OTP 10 मिनट में अपने आप expire हो जाता है और transcation faild हो जायेगा क्योंकि आपके फ़ोन पर आया OTP 10 मिनट तक ही वैध था अब उसे नया OTP जनरेट करना पड़ेगा |

OTP के फायदे

  • इसका एक ही बार प्रयोग किया जा सकता है |
  • बैंक अकाउंट को सुरक्षित बनाता है |
  • आसानी से कही पर भी ऑनलाइन transcation कर सकते हैं |
  • बैंक द्वारा हर बार नया OTP भेजा जाता है जिससे हैकर को बार बार पता करना मुश्किल हो जाता है |
  • लेन देन पूरा करने से पहले ये OTP भेजकर ये सुनिश्चित करना की ये खाता इसी धारक है |

OTP के नुकसान

दोस्तों जहां किसी भी चीज़ के फायदे होते हैं वहां नुकसान भी होते ऐसे ही OTP के कुछ फायदे हैं तो इसके कुछ नुकसान भी हैं जिन्हे नीचे बताया गया है | इन्हे आपको जरूर ध्यान में रखना चाहिए , तो चलिये जानते हैं वो कौन से नुकसान है जिनसे हमें बचना चाहिये |

  • कम समय की वैधता – अगर आप कोई काम कर रहे हो और OTP का प्रयोग नहीं कर पाये तो आपको OTP फिर से मंगवाना पड़ेगा जिससे आपको बैक करना पड़ेगा | बैक करने से आप इंटरनेट बैंकिंग से लोग आउट हो जाते हैं और आपको फिर से इंटरनेट बैंकिंग में लोग इन करना पड़ेगा | जिसमे आपका कम से कम 5 मिनट का समय ख़राब हो जाता है और आज के समय में सबके लिए एक-एक मिनट बहुत ही कीमती है |
  • पंजीकृत मोबाइल नम्बर – अगर आपके पास बैंक अकाउंट में पंजीकृत मोबाइल नम्बर नहीं है तो आप न तो किसी भी प्रकार की ऑनलाइन शॉपिंग कर सकते हैं और न ही किसी प्रकार का ऑनलाइन भुगतान सकते हैं |
  • दूसरा OTP – अगर किसी कारण से आपकी Transcation कैंसिल हो जाती है तो आपको OTP दुबारा मंगवाना पड़ेगा जो पहले वाले OTP के मुकाबले ज्यादा सिक्योर नहीं होता |

OTP से जुड़े QnA

दोस्तों अब बात करेंगे OTP से जुड़े शॉर्ट प्रश्न और उनके शॉर्ट उत्तर

  • OTP क्या है ?
  • OTP एक 6 अंको का पासवर्ड जिसका प्रयोग हम अपने लेन देन पूरा करने ले लिए करते हैं |

    What is OTP Full Form ?

    OTP का फुल फॉर्म One Time Password होता है |

    OTP क्या हिंदी में क्या मतलब होता है ?

    OTP को हिंदी में आप ऐसे कह सकते हैं की जिस पासवर्ड को एक ही बार प्रयोग किया जा सकता है उसके बाद उसे Re Use नहीं किया जा सकता | या फिर एक बार प्रयोग करने के बाद वो expire हो जाता है |

    OTP कहाँ Use होता है ?

    यदि आप किसी भी प्रकार की ऑनलाइन Transcation करते हैं और वो आपकी निजी जानकारी के बारे में है तो आपकी सुरक्षा को मजबूत करने के लिये वहां OTP का प्रयोग किया जाता है | Example – Social Media Platform , Trading Platform , Internet Banking , ATM Card New Pin , ATM Card Pin Change , Aadhar Card Download , Driving License Online Apply , Email I’d many more..

    कैसा होता है OTP का फॉर्मेट ?

    OTP का फॉर्मेट Numerical Digit ( अंकों में ) में होता है | OTP फॉर्मेट कोड में तब्दील होता है जैसे 123456 |

    OTP कितने नम्बर का होता है ?

    OTP 6 Numerical Digit ( अंकों में ) का होता है |

    क्या OTP हर बार एक ही आता है ?

    हर बार OTP अलग – अलग आता है | इसका भी एक कारण है अगर सभी का OTP एक जैसा हो जाये तो बैंक आपकी पहचान नहीं कर पायेगा और आपके साथ फ्रॉड हो सकता है | OTP एक जैसा होने का ये नुकसान है की हर कोई इसे आसानी से याद कर सकता और किसी का भी Username और password लेकर उसका गलत इस्तेमाल कर सकता है | मान लो किसी ने आपका username और password चुरा लिया है और अब वो Internet Banking में लॉगिन करना चाहता है , तो अगर सभी का OTP एक जैसा हो तो उसमे वो अपना OTP भर सकता है और आपके आकउंट से पैसे निकाल सकता है और अगर OTP अलग – अलग हों तो आपके बैंक अकाउंट को Access नहीं कर सकता |

    क्या बिना पंजीकृत मोबाइल नम्बर OTP प्राप्त किया सकता है ?

    नहीं बिना पंजीकृत मोबाइल नम्बर OTP प्राप्त नहीं किया जा सकता क्योंकि जो मोबाइल नम्बर आपने अपनेबैंक अकाउंट में रजिस्टर करवाया है बैंक उसी पर सभी जरूरी सूचना भेजता है |

    क्या OTP को दो बार प्रयोग किया जा सकता है ?

    दोस्तों किसी भी OTP को एक से अधिक बार प्रयोग नहीं किया जा सकता क्योंकि OTP की एक समय सीमा होती है जिसके अंतर्गत आप इसे एक Valid समय तक ही use कर सकते है अगर आप इसके Valid समय तक इसका use नहीं करते है तो ये अपने आप Invalid हो जाता है |

    क्या OTP नम्बर सभी के लिए एक ही होता है ?

    दोस्तों हर बार OTP अलग – अलग आता है | इसका भी एक कारण है अगर सभी का OTP एक जैसा हो जाये तो बैंक आपकी पहचान नहीं कर पायेगा और आपके साथ फ्रॉड हो सकता है | OTP एक जैसा होने का ये नुकसान है की हर कोई इसे आसानी से याद कर सकता और किसी का भी Username और password लेकर उसका गलत इस्तेमाल कर सकता है | मान लो किसी ने आपका username और password चुरा लिया है और अब वो Internet Banking में लॉगिन करना चाहता है , तो अगर सभी का OTP एक जैसा हो तो उसमे वो अपना OTP भर सकता है और आपके आकउंट से पैसे निकाल सकता है और अगर OTP अलग – अलग हों तो आपके बैंक अकाउंट को Access नहीं कर सकता |

    OTP प्राप्त करने के कितने तरीके हैं ?

    OTP प्राप्त करने के 3 तरीके हैं –
    1. Message OTP
    2. Voice calling OTP
    3. Email OTP

    क्या किसी के साथ OTP शेयर करना सुरक्षित है ?

    नहीं , बिलकुल नहीं आपको किसी के साथ अपना OTP शेयर नहीं करना है चाहे वो बैंक कर्मचारी ही क्यों न हो | क्योंकि बैंक कर्मचारी कभी भी आपके पास कॉल करके आपसे ये कभी नहीं पूछेगा की आपके पास आया हुआ OTP नम्बर क्या है | अगर आपके पास कोई कॉल करके आपसे OTP की जानकारी या आपके बैंक अकाउंट की निजी जानकारी हासिल करने की कोशिस करता है तो इसकी जानकारी तुरंत अपने निजी पुलिस स्टेशन या बैंक अधिकारी को दें | अगर आप किसी के साथ अपना OTP शेयर करते हैं तो आपका अकाउंट साफ़ हो सकता है यानी आपके साथ फ्रॉड हो सकता है |

    OTP प्राप्त करने का कौन सा तरीका सुरक्षित है ?

    OTP प्राप्त करने के तीनों तरीके सुरक्षित हैं | OTP को आप जिस तरीके से मँगवाना चाहते हैं आपको उस तरीके को चुनना होगा आपको OTP उसी तरीके से प्राप्त होता है | कई Platforms पर OTP का माध्यम चुनने का विक्लप होता है कई जगह नहीं होता | उसके हिसाब से आपको OTP का माध्यम चुनना होगा | जिस विक्लप को आप चुनते है आपको उसी माध्यम से OTP प्राप्त होता है |

    OTP कितने समय तक Valid रहता है ?

    OTP के लिए ये कह पाना मुश्किल है की ये कितने समय तक Valid है | इसका कारण ये है की इसकी वैधता तीन फॉर्मेट में होती है 10 मिनट , 15 मिनट और 30 मिनट | इसे हर क्षेत्र में अलग वैधता के साथ भेजा जाता है |आपको इसे अपने Login Portal पर एक सिमित समय में भरना होता है नहीं तो कुछ समय के बाद ये अपने आप Invalid हो जाता है | आप इसे यूँ कह सकते हैं की OTP का valid समय 10 मिनट से लेकर 30 मिनट तक होता है |

    अगर OTP Invalid हो जाये तो क्या करें ?

    ऐसे बहुत ही कम लोग होते हैं जिनका OTP code Invalid होता है क्योंकि वे लोग OTP को Valid समय के अन्दर ही enter कर देते हैं | अगर आप OTP को Valid समय के अन्दर enter नहीं कर पाते हैं तो इसका भी Solution है | जहाँ आप OTP Code को enter करते हैं उसके नीचे आपको Re Send का ऑप्शन मिलेगा आपको इस पर क्लिक करना है और आपके पास दूसरा OTP code भेज दिया जायेगा जिससे आप अपना भुगतान पूरा कर सकते हैं |

    क्यों आता है OTP हर बार ?

    दोस्तों आज के समय सबसे ज्यादा जो Important है वो है सिक्योर रहना | ये जितने भी Platforms होते हैं ये सभी अपनी Security को बनाये रखने ले लिए OTP Number का प्रयोग करते हैं जिससे इनका data सिक्योर रहे और कोई Hacking Attack न हो | इसलिए ये हमारे पास OTP Number भेजकर हमारी पहचान को मैच करते हैं |

    OTP भेजने का क्या मकसद है ?

    दोस्तों OTP भेजने का सीधा मकसद यही होता है की इससे सभी Platform सुरक्षित रहें | किसी के साथ किसी भी प्रकार का cyber attack न हो और सभी Databse safe रहें |

    OTP न आये तो क्या करें ?

    अगर आपका नम्बर आपके बैंक अकाउंट से लिंक है तो दोस्तों ऐसा कभी हो ही नहीं सकता की आपके पास OTP ना आये | अगर फिर भी आपके पास OTP नहीं आ रहा है तो इसके प्रमुख दो कारण हो सकते हैं | अगर आपने तीन से ज्यादा बार OTP प्राप्त किया है और उसे आपने Use ना किया हो इस वजह से OTP Server आपको कुछ समय के लिए लिए ब्लॉक कर देता है , दूसरा आपके फ़ोन में परोपर नेटवर्क होना भी जरूरी है | अगर आपके तीन Attempts पुरे हो गए हैं तो आपको 30 मिनट या 1 से 2 घण्टे रुकना भी पड़ सकता है |
    ऐसे में आप इसका हल कैसे करेंगे | दोस्तों इसके दो Alternative Method भी होते हैं ” Voice Calling “और ” Email ” अब आप इसके Alternative Method को Use कर सकते हैं | सिम्पली आपको इनमे से एक को चुन लेना है और “Email” या “Voice Calling” के माध्यम से OTP प्राप्त कर लेना है और अपनी Transcation को पूरा कर लेना है |

    OTP का Alternative Method क्या है ?

    दोस्तों Alternative का मतलब होता है वैकल्पिक इसमें आपके सामने ऑप्शन होता है अगर आपको एक चीज़ पसंद नहीं है तो आप दूसरी ले सकते हैं | इससे आप समझ ही गए होंगे की अगर आपको पहला ऑप्शन कठिन लग रहा है तो इसकी जगह दूसरा ऑप्शन ले सकते हैं | इसी प्रकार OTP वाले मामले में अगर आपको SMS से OTP प्राप्त नहीं हो रहा है तो आप दूसरा ऑप्शन ” Email ” या ” Voice Calling ” को try कर सकते हैं |

    क्या OTP से नुकसान भी होता है ?

    दोस्तों OTP को हमारे बैंक अकाउंट की सुरक्षा के लिए बनाया गया है | इससे कुछ खास नुकसान नहीं होता , हाँ तब आपको नुकसान हो सकता है जब आपका फ़ोन या सिम गुम हो जाये या चोरी हो जाये | इससे क्या होगा दोस्तों जब भी आप किसी भी पोर्टल पर लॉगिन करेंगे तो आपको OTP की जरूरत पड़ेगी जो इस समय आपके पास नहीं है | आपको अपना गुम हुआ नम्बर निकलवाने के लिए कुछ पैसे भी खर्च करने पड़ सकते हैं | इससे ज्यादा आपको कोई नुकसान नहीं होगा |

    OTP कैसे हमारे लिए फायदे मन्द है ?

    दोस्तों OTP का सबसे बड़ा फायदा यही है की आप जितनी बार लॉगिन करेंगे उतनी बार आपको नया OTP डालना पड़ेगा ऐसे में अगर आपका अकाउंट हैक हो जाता है तो आपके अकाउंट से कोई छेड़छाड़ नहीं हो सकती क्योंकि जब तक उसको OTP नहीं बताएंगे तब तक वो कुछ नहीं कर सकता | मान लो आपने किसी पोर्टल पर आपके दोस्त के सामने अपना username और password डाल दिया और उसने चुपके से देख लिया | अब वो अपने घर जाकर उसी पोर्टल पर आपके username और password से लॉगिन करना चाहेगा तो OTP भी enter करना होगा जो आपके पंजीकृत मोबाइल नम्बर पर आएगा जो आप उसे कभी नहीं बताएंगे | इससे वो आपके अकाउंट का कुछ भी गलत इस्तेमाल नहीं सकता | इस प्रकार OTP हमारे लिए बहुत ही फायदे मन्द है |

    Invalid OTP डालने से कोई नुकसान है या नहीं ?

    दोस्तों आपके मन में ये प्रश्न भी होगा की क्या Inavalid या गलत OTP डालने से नुकसान हो सकता है ? तो आपको बता दें की Wrong या Invalid OTP डालने से आपका कोई नुकसान नहीं है | अगर आप 2 से 3 बार गलत OTP डाल देते हैं तो आपको एक Timer दिखाई देने लगेगा अब आपको इस Timer के हिसाब से OTP डालना होगा | इससे बस यही नुकसान है की जब आप एक अधिक बार गलत OTP भरते है तो आपका थोड़ा बहुत समय ख़राब हो सकता है |

    दोस्तों ऑनलाइन फ्रॉड होने से खुद भी बचें और दूसरे अपने भाई बहनो को भी बचाएँ | दोस्तों टॉपिक भले ही थोड़ा लम्बा हो गया हो लेकिन इसमें OTP Full Form से सम्बन्धित आपके मन में जितने भी Question थे लगभग सभी इस आर्टिकल में कवर हो गए होंगे फिर भी आपका OTP Full Form से सम्बंधित प्रश्न है तो कमेंट में जरूर बताना मैं अगर आपको लगता है की OTP Full Form से सम्बंधित और भी जानकारी इसमें Add करने की आवश्कता है तो वो भी कमेंट में जरूर लिखना मैं OTP Full Form से सम्बन्धित और अधिक रिसर्च करके इस आर्टिकल OTP Full Form में सुधार अवश्य करुंगा | आज का मेरा मकसद यही था की इस टॉपिक के बारे में लोगों को ज्यादा से ज्यादा जानकारी प्रदान की जाये ताकि ऑनलाइन फ्रॉड होने से बचा जा सके | दोस्तों कैसा लगा आज का हमारा ये आर्टिकल अगर सच में आपको इस आर्टिकल से कुछ नॉलेज मिली है तो इसे कम से कम अपने 2 whatsapp ग्रुप्स में शेयर करना न भूलें ताकि आपके किसी भाई बहन के साथ फ्रॉड न हो |     

    अपने दोस्तों के साथ शेयर करें

    Similar Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *